चौहटन : कस्बे मे अलग-अलग जगह हुआ योग का आयोजन, लोगों मे नज़र आया भरपूर उत्साह

0
51

विपिन भंसाली, चौहटन 

बाड़मेर टाइम्स नेटवर्क 

चौहटन- राउमावि चौहटन के प्रांगण में चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कस्बेवासियों ने उत्साहपूर्वक सम्मिलित होकर निर्धारित प्रोटोकॉल अनुसार योग किया। इस दौरान सैकड़ों की संख्यां में विधायक, सरकारी अधिकारियों, कमर्चारियों, महिलाओं व बच्चों द्वारा योगाभ्यास किया गया।

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि तरुण राय कागा ने कहा कि योग एक जीवनशैली है जो शरीर को मानसिक व शारीरिक रूप से सेहतमंद रखता है। अपने विचार व्यक्त करते हुए कागा ने कहा कि प्रधानमंत्री ने प्रतिवर्ष योग दिवस आयोजित करवा कर एक सराहनीय कार्य किया है। जिसकी बदौलत आज योग की सम्पूर्ण विश्व में पहचान बनी है और योग के माध्यम से भारतीय संस्कृति जागृत हुई है। उन्होंने कहा कि योग हमारे देश की प्राचीन विद्या है जो सब बीमारियों का नाश करती है और और शरीर को निरन्तर स्वस्थ बनाए रखती है।

इस अवसर पर चौहटन के उपखण्ड अधिकारी भूपेंद्र कुमार यादव ने कहा कि सभी उम्र के लोगों को योग अवश्य व निरंतर करना चाहिए जिससे मानसिक तनाव से छुटकारा मिलता है। एसडीएम यादव ने योग के महत्व को बताते हुए कहा कि योग एक चमत्कार है जिसे मेडिकल भी मानता है और समस्त लोगों को अपनी भावी पीढ़ी को भी योग का महत्व जरूर बताएं और योग करने के लिए बच्चों को प्रेरित करे। उन्होंने कहा कि योग की वजह से भारतीय संस्कृति को दुनिया लोहा मान रही है और कई समस्याओं का समाधान योग है।

इस दौरान विधायक तरूणराय कागा, एसडीएम भूपेंद्र कुमार यादव, पुलिस उपाधीक्षक सुरेन्द्र कुमार प्रजापत, तहसीलदार तुलछाराम, विकास अधिकारी बाबू सिंह राजपुरोहित, थानाधिकारी मनोहर विश्नोई, बीईईओ केसरदान रतनू, एबीईईओ युवराज कागा, प्रिंसिपल नंदलाल चौहान, जलदाय विभाग के एईएन जयराम दास मेघवाल, विद्युत विभाग के एईएन गेमराराम गर्ग, व्याख्याता गौतम भंसाली, गीता नावरिया, संगीता जोशी, ग्राम विकास अधिकारी झामन सिंह सहित भारी संख्या मे लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन आयुर्वेद चिकित्सक डॉ. जितेंद्र धारीवाल ने किया।

 

इसी तरह…

चौहटन कस्बे के तारातरा मे आज गुरुवार चतुर्थ अंतराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर राआउमावि पनोनियों का तला तारातरा पंचायत मुख्यालय पर पतंजलि योग समिति एवम भारत स्वाभिमान ट्रस्ट की तरफ से निःशुल्क एक दिवसीय योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें पतंजलि योग समिति के मुख्य योग शिक्षक एवम बाड़मेर के जिला योग प्रचारक पूनमाराम आर्य ने योग प्रोटोकॉल के अनुसार योगासन और प्राणायाम का अभ्यास करवाया। कार्यक्रम की शुरुआत स्वामी जगरामपुरी महाराज तारातरा एवम स्वामी सहेजपुरी महाराज द्वारा सरस्वती पूजन के साथ की गई।स्वामी जगराम पुरी महाराज ने वेदमन्त्रों से शुरुआत कर सबको भारत के विश्वगुरु होने का गौरमय इतिहास और योग रहस्यों के बारे में बताया। इस दौरान स्वामी को पतंजलि के अंगवस्त्र और ओम ध्वज देकर बहुमान किया और पतंजलि सामग्री, बेज, अंगवस्त्र और स्टिकर स्वामीजी के द्वारा बच्चों और शिक्षकों में बंटवाया गया।

ततपश्चात पूनमाराम आर्य ने योग प्रोटोकॉल के योग क्रम को संगठन मन्त्र से शुरूकर यौगिक अभ्यास में गर्दन के 4 अभ्यास, कंधे के 2 अभ्यास, कमर के 1 अभ्यास और फिर खड़े होकर ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, त्रिकोणासन बैठकर भद्रासन, तितलिआसन, वज्रासन, अर्धउष्ट्रासन, उष्ट्रासन, शशांकासन, उतनमंडूकासन्न पेट के बल लेटकर मकरासन, भुजंगासन, शलभासन पीठ के बल लेटकर सेतुबंध आसान, उत्तानपादासन, अर्धहलासन्न और शवासन इत्यादि के बाद कपालभांति, अनुलोमविलोम, शीतली प्राणायाम, भ्रामरी और ध्यान करवाया गया।

ध्यान के बाद प्रधानाचार्य से संकल्प करवाया और मुख्य योग शिक्षक का आभार जताया ।उसके बाद शांति पाठ के योग सत्र को भारत माँ के गगनभेदी नारों के साथ समापन किया गया।

कार्यक्रम में 500 विद्यार्थी, 20 से ज्यादा शिक्षकगण, स्वामी जगरामपुरी महाराज,स्वामी सहेजपुरी महाराज, प्रधानाचार्य हरजीराम सियाग, सरपंच, ग्रामसेवक, सहायक ग्रामसेवक और कई वार्डपंच और सैकड़ों ग्रामीण के साक्ष्य में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को समापन किया गया।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here