आशा सहयोगिनियों ने किया सद्बुद्धि यज्ञ

0
165

जोधपुर। महिला एवं बाल विकास कर्मचारी संयुक्त संघ कीओर से लंबित मांगों को लेकर कलेक्ट्रेट के बाहर दिया जा रहा धरना गुरुवार को भी जारी रहा। गुरुवार को यहां धरना स्थल पर सद्बुद्धि यज्ञ किया गया।
संघ की जिला अध्यक्ष किरण रावलोत ने बताया कि लंबित मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से आंदोलन किया जा रहा है लेकिन सरकार द्वारा उनकी मांगों पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। गुरुवार को सरकार और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को सद्बुद्धि देन के लिए धरना स्थल पर कर्मचारी नेता शंभूसिंह मेडतिया के नेतृत्व में यज्ञ किया गया। इन आक्रोशित महिलाओं द्वारा 22 सितम्बर को महारैली भी निकाली जाएगी। आंदोलन का कर्मचारी महासंघ ने समर्थन किया है। धरने में मंजू पोपवत, कमला पांडे, कविता, श्यामा चौधरी, रुकसाना, सन्नू गुर्जर, भावना, नीतू गुर्जर, अनिता देवरा, बीना शेखावत आदि ने भाग लिया।

एनआरएचएम के संविदाकर्मियों ने दिया धरना

जोधपुर। विभिन्न मांगों को लेकर एनआरएचएम के संविदाकर्मियों ने गुरुवार को जिला कलेक्ट्रेट के बाहर धरना दिया।
जोधपुर जिले में दस ब्लॉक के एनआरएचएम के संविदाकर्मी जिसमें बीपीएम, लेखाकार, ब्लॉक आशा समन्वयक, पीएचसी, आशा सुपरवाइजर कंप्यूटर ऑपरेटर शामिल है उन्होंने गुरुवार को धरना दिया। वे अनिश्चितकालीन सामूहिक अवकाश पर चल रहे है। इन कर्मचारियों का कहना है कि 2013 में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से भर्ती के लिए विज्ञापन जारी हुआ था लेकिन सरकार बदलने के बाद भर्ती प्रकिया बंद कर दी गई। उन्होंने मांग की कि कर्मचारियों के लिए इस भर्ती को शुरू किया जाए और कर्मचारियों को स्थाई किया जाए। उन्होनें अपनी नौ प्रमुख मांगों को लेकर मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन भी प्रेषित किया है।

कहानी और काव्य संग्रह का लोकार्पण 24 को

जोधपुर। साहित्य संस्था सृजना की मेजबानी में दो महिला साहित्यकार, कवि और कथाकार की पुस्तकों का लोकार्पण समारोह 24 सितम्बर को होटल क्वालिटी इन चन्द्रा में किया जाएगा।
सृजना के संयोजक डॉ. हरिदास व्यास ने बताया कि सुषमा चौहान के कहानी संग्रह रौंदे हुए इन्द्रधनुष और कवयित्री सुनिता चौधरी का काव्य संग्रह प्रेम, अवनि और वातायन का लोकार्पण इस समारोह में किया जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ रचनाकार प्रकाशक, जयपुर मायामृग होंगे जबकि विशिष्ट अतिथि श्रीमती नीलिमा टिक्कू वरिष्ठ रचनाकार – संपा, साहित्य समर्था, जयपुर और डा. रमासिंह वरिष्ठ कवयित्री समीक्षक गाजियाबाद होगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता शहर के वरिष्ठ रचनाकार चिंतक प्रो. सत्यनारायण करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here