जर्जर भवन होंगे चिन्हित, मौसमी बीमारियों की रोकथाम को चलेगा अभियान

0
18

बाड़मेर टाइम्स ब्यूरो 

-जिला कलक्टर ने पानी की टंकियों मे ब्लीचिंग पाउडर डालने के निर्देश

बाड़मेर- बाड़मेर एवं बालोतरा शहर मे जर्जर भवनों को चिन्हित करने के साथ मौसमी बीमारियों की रोकथाम के लिए अभियान चलाया जाएगा। जर्जर भवनों के मालिकों को नोटिस देकर उनकी मरम्मत करवाने अथवा गिराने की कार्रवाई करवाने के लिए निर्देशित किया जाएगा। जिला मुख्यालय पर सोमवार को आयोजित बिजली, पानी संबंधित साप्ताहिक समीक्षा बैठक के दौरान जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने इस संबंध मे विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।

इस दौरान जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बालोतरा क्षेत्र मे नदी के बहाव क्षेत्र के आसपास के इलाकों मे खतरे की सूचना प्रदर्शित करने के निर्देश दिए। उन्होने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.कमलेश चौधरी को मौसमी बीमारियो की रोकथाम के लिए पुख्ता इंतजाम करने के लिए कहा। उन्होने एकत्रित पानी मे मोबिल आयल डलवाने, कूलरो से पानी खाली करवाने, झाडि़या कटवाने तथा फोगिग करवाने के लिए अभियान चलाने के निर्देश दिए। उन्होने जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता हेमंत चौधरी को नियमित रूप से पानी के नमूने लेने तथा टंकियों मे ब्लीचिंग पाउडर डलवाने के निर्देश दिए। उन्होने बाड़मेर एवं बालोतरा शहर मे जल भराव होने की स्थिति मे इसकी तत्काल निकासी करवाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने सार्वजनिक निर्माण विभाग एवं नगर परिषद के अधिकारियों को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर गौरव पथ के समीप पानी की निकासी एवं कार्य की तीव्र गति से पूर्ण कराने के लिए सामूहिक रूप से भ्रमण करने के लिए कहा। इस दौरान भूमि अवाप्ति अधिकारी अशोक सांगवा ने संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों की विभागवार जानकारी दी। अधीक्षण अभियंता मांगीलाल जाट ने बताया कि संबंधित कनिष्ठ अभियंता से यह प्रमाण पत्र लिया जा रहा है कि उनके इलाके मे विद्युत पोल से किसी तरह का हादसा होने अथवा खतरा होने की स्थिति नहीं है। डिस्काम के अधिशाषी अभियंता भेराराम चौधरी ने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत 131 ग्राम पंचायतो मे काम चल रहा है। अब तक 47 हजार विद्युत कनेक्शन किए जा चुके है। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा.कमलेश चौधरी, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डा. बीएल मंसूरिया, आयुक्त पंकज मंगल समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

आमजन स्वयं भी डाल सकते है ब्लीचिंग पाउडरः आमजन नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र अथवा जलदाय विभाग के सोर्स से ब्लीचिंग पाउडर लेकर अपने टांकों मे डाल सकते है। इसके लिए 1000 लीटर पानी के टांके मे 25 ग्राम ब्लीचिंग पाउडर डालना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here