शैक्षिक उन्नयन के साथ ही हुनरमन्द होना भी आवश्यक- जैतमाल सिंह

58

बाड़मेर टाइम्स नेटवर्क 

-एडीईओ जैतमाल सिंह ने हॉबी सेंटर सिणधरी का किया औचक निरीक्षण

सिणधरी- राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड स्थानीय संघ सिणधरी द्वारा ग्रीष्मकालीन कौशल विकास व अभिरुचि शिविर में मंगलवार को अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक शिक्षा बाड़मेर जैतमाल सिंह  द्वारा आकस्मिक निरीक्षण कर शिविर की व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया। निरीक्षण के दौरान सभी प्रशिक्षणार्थी अपनी विद्याओं को पूर्ण मनोयोग से सीखने में मग्न पाये गए।

संभागियों को संबोधित करते हुए एडीईओ जेतमलसिंह ने कहा कि वर्तमान में शैक्षिक उन्नयन के साथ साथ हुनरमन्द होना बहुत जरूरी है तांकि हम आज के इस प्रतिस्पर्धी दौर में स्वयं को हर स्तर पर साबित कर सकें। उन्होंने शिविर की व्यवस्थाओं व क्रिया प्रणाली पर संतोष व्यक्त किया। विशिष्ट अतिथि दीपाराम टाक ने कहा कि स्काउटिंग संगठन क्षेत्र के बच्चों के लिए ग्रीष्मकालीन फ्री टाइम को बेहतर उपयोग में लाने का उत्तम विकल्प उपलब्ध करवा रहा है। यह दूसरी बार अपनी उत्तम व्यवस्थाओं के साथ संचालित किया जा रहा है। उन्होंने संभागियों से मनोयोग से सीखने की सीख दी। संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव  सोसायटी के मैनेजर पन्नाराम प्रजापत ने कहा कि वर्तमान नें बच्चे मोबाइल जैसे यंत्रो में काल्पनिक खेल आदि खेल कर अपना कीमती समय को व्यर्थ कर बेकार बनते जा रहे है साथ ही इससे उनमे कई मनोवैज्ञानिक व्याधियां उत्पन्न हो रही है जो उनके भविष्य के लिए खतरनाक साबित हो रहा है ऐसे में स्काउटिंग सिणधरी द्वारा बच्चों के लिए वास्तव में हुनर विकास का शिविर आयोजित करना अपने आप में बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा। उन्होंने शिविर के लिए आवश्यक व्यवस्थाओं में यथासम्भव सहयोग का विश्वास व्यक्त किया।

इस दौरान शिविर में मेहंदी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में गहरों ने प्रथम रजनी ने द्वितीय तथा पायल ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। विजेताओं को भामाशाह  दीपाराम टाक प्रबंधक मां सरस्वती उच्च माध्यमिक विद्यालय सिणधरी द्वारा स्मृति चिन्ह तथा पन्नाराम प्रजापत शाखा प्रबंधक  संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव  सोसायटी लिमिटेड सिणधरी द्वारा अतिथियों को बैग वितरण किए गए। इस दौरान पाबूराम नवाद, तेजाराम गोदारा व हेमाराम मनमोड़ा ने भी विचार व्यक्त किये।

स्थानीय संघ सचिव दूदाराम चौधरी ने बताया कि शिविर में लगभग दो सौ संभागी शिविर संचालक गोरधनराम चौधरी के नेतृत्व में दक्ष प्रशिक्षक पुखराज लुखा डंडाली कंप्यूटर, सुरेश कुमार व शांति सिलाई, योगिता चौहान केनवर्क, ललिता ब्यूटी पार्लर,  वीणा रंगोली, रेखा नृत्य, रमेश कुमार व दिनेश माली द्वारा इलेक्ट्रॉनिक तथा जुजाराम द्वारा संगीत कला का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here