आचार्य लोकेश ‘कर्मयोगी’ अवार्ड से सम्मानित

77

नीरज सिसोदिया, पचपदरा 

बाड़मेर टाइम्स नेटवर्क 

-आचार्य लोकेश ने अध्यात्म को समाज सेवा से जोड़ा- सुब्रमनियण स्वामी

-भारत महोत्सव अनेकता में एकता का अद्भुत उदाहरण- आचार्य लोकेश

पचपदरा- मारवाड़ क्षेत्र के जन्मे, शिक्षित, दीक्षित अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक प्रख्यात जैन आचार्य डॉ. लोकेश मुनि को भारत महोत्सव के दौरान सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुब्रमनियण स्वामी ने ‘कर्मयोगी’ अवार्ड से सम्मानित किया। स्वामी ने जनपथ स्थित इंदिरा गाँधी नेशनल सेंटर फॉर आर्ट्स में आयोजित फेस्टिवल ऑफ़ भारत के दौरान कहा कि आचार्य लोकेश ने अध्यात्म को समाज सेवा के जोड़कर मानव सेवा का जो अभूतपूर्व कार्य कर एक सच्चे कर्मयोगी का उदहारण प्रस्तुत किया है। आचार्य लोकेश को आध्यात्मिक जगत में ‘कर्मयोगी’ अवार्ड से सम्मनित कर हम गौरवान्वित महसूस कर रहे है।

स्वामी ने कहा कि आचार्य लोकेश ने भारतीय संस्कृति को विश्व के कोने कोने में ले जाकर भारत की अनेकता में एकता की संकृति और प्राचीन ज्ञान को गौरवान्वित किया है। मै उन्हें वर्षों से जानता हूँ वो सदैव सभी वर्गों और सम्प्रदायों को साथ लेकर समाज में शांति और सद्भावना की स्थापना के लिए प्रयासरत रहते है। भारत महोत्सव के माध्यम से उन सबको एक मंच पर लाकर भारतीय संस्कृति के संरक्षण व संवर्धन का हम प्रयास कर रहे है।

आचार्य लोकेश ने इस अवसर पर कहा कि भारत धर्म व कला प्रधान देश है। यहाँ के विभिन्न राज्यों में कला, ज्ञान व धर्म के विभिन्न रूप देखने को मिलते है। भारत में अनेक धर्म, सम्प्रदाय, प्रदेश के लोग एकसाथ मिलजुलकर रहते है। सभी का रहन सहन, रीति रिवाज, कला, संस्कृति अलग है और सब एक दूसरे की संस्कृति का आदर और सम्मान करते है। भारत महोत्सव के माध्यम से देश की राजधानी दिल्ली के ह्रदय जनपथ पर एक समृद्ध भारत को देखने का अवसर मिला।

पंडित सतीश शर्मा अध्यक्ष ब्रिटिश बोर्ड ऑफ़ हिन्दू स्कोलार्स, अभय सिंह एवं सिद्धार्थ कोहली ने आचार्य लोकेश का परिचय देते हुए कहा कि आचार्य लोकेश ध्यान, योग और पीस एजुकेशन के विशेषज्ञ हैं| आचार्य डॉ. लोकेश मुनि विश्व में अहिंसा, शांति एवं सद्भावना की स्थापना, राष्ट्रीय चरित्र निर्माण, मानवीय मूल्यों के उत्थान के लिए निरंतर प्रयत्नशील रहते है। उन्हें भारत सरकार द्वारा ‘सांप्रदायिक सद्भावना सम्मान’, संयुक्त राष्ट्र संघ में ‘शान्तिदूत’, केलिफोर्निया अमेरिका में ‘की टू सिटी’ से अलंकृत किया जा चुका है। आचार्य लोकेश ने संयुक्त राष्ट्र संघ, विश्व धर्म संसद, लंदन पार्लियामेंट सहित विभिन्न राष्ट्रीय, अन्तरराष्ट्रीय सम्मेलनों में भाग लेकर भारतीय संस्कृति का गौरव बढाया है।

जैन आचार्य डॉ. लोकेश मुनि को भारत महोत्सव के दौरान सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुब्रमनियण स्वामी ने ‘कर्मयोगी’ अवार्ड से सम्मानित करने पर पचपदरा ओसवाल समाज अध्यक्ष अरविन्द कुमार मदाणी, पचपदरा सरपंच विजयसिंह खारवाल, पचपदरा बार एसोसिएशन अध्यक्ष लुणसिंह खारवाल, चार्टर्ड अकाउंटेंट समाजसेवी ओम बांठिया, कांग्रेस सेवादल प्रदेश संगठन मंत्री हुकमसिंह अजीत, भाजयूमो जिला उपाध्यक्ष अमितसिंह राठौड़, कमलेश संखलेचा सहित क्षेत्रवासियो ने खुशी जताई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here