आमजन की समस्याओं के समाधान के लिए फील्ड मे जाए अधिकारी- गोयल

81

बाड़मेर टाइम्स ब्यूरो 

-गर्मी के मौसम मे मुस्तैद रहकर जलापूर्ति सुनिश्चित करवाने के निर्देश।
बाड़मेर- आमजन की समस्याओं के समाधान के लिए विभागीय अधिकारी नियमित रूप से फील्ड मे जाएं। गर्मी के मौसम मे मुस्तैद रहकर सभी स्थानों पर जलापूर्ति सुनिश्चित करवाएं। इसमे किसी तरह की कौताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने मंगलवार को बाड़मेर जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल मे आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही।
इस अवसर पर प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने कहा कि जिन इलाकों मे पेयजल की समस्या है वहां प्राथमिकता से टैंकरों के जरिए जलापूर्ति शुरू की जाए। उन्होने अंतिम छोर तक जलापूर्ति सुनिश्चित करने के लिए अवैध कनेक्शन काटने तथा दुबारा जोड़ने पर पुलिस मे एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए। उन्होने जलदाय विभाग के अधिकारियों को ऐसी पेयजल परियोजनाओं के लिए नो डयू जारी करने के भी निर्देश दिए, जिनकी स्वीकृति से पहले की पाइप लाइनों मे जलापूर्ति प्रभावित नहीं हो। उन्होने बताया कि बाड़मेर जिले मे जलापूर्ति सुनिश्चित करवाने के लिए 430 श्रमिकों एवं 38 वाहनों की स्वीकृति जारी की गई है। उन्होने जलदाय विभाग के अधिकारियों को प्रोजेक्टस की प्रगति संबंधित सूचना प्रतिदिन जिला कलक्टर को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री गोयल ने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत 30 जून तक समस्त कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि विकास कार्याें मे गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें। किसी भी प्रकार की शिकायत मिलने पर थर्ड पार्टी वेरीफिकेशन करवाया जाए। उन्होने स्वच्छ भारत मिशन के तहत बाड़मेर जिले को ओडीएफ घोषित करवाने के लिए जन प्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक टीम को बधाई दी। उन्होने मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान एवं न्याय आपके द्वार अभियान के तहत लगने वाले शिविरों मे सक्रिय भागीदारी निभाने का आह्वान किया।
संसदीय सचिव लादूराम विश्नोई ने मुख्य नर्मदा नहर मे जलापूर्ति करवाने एवं ढीमड़ी विद्युत सब स्टेशन का कार्य प्राथमिकता से करवाने की बात कही। सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने केयर्न इंडिया की ओर से उपलब्ध कराए गए बजट से टयूबवैल खुदाई के कार्य मे तेजी लाने की बात कही। उन्होने कहा कि आरओ प्लांट के मामले की जांच कराई जाए। उन्होने जिले मे पेयजल संकट की स्थिति से निपटने के लिए माकूल इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। राजस्थान उर्दू अकादमी के चैयरमैन असरफ अली ने बाड़मेर जिले के सरहदी इलाकों मे पेयजल संकट का मामला उठाते हुए बेरियों पर हैंडपंप लगाने की बात कही। ताकि आमजन को सहुलियत हो सके। इस पर जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि इस संबंध मे सीमांत क्षेत्र विकास कार्यक्रम मे तहत स्वीकृतियां जारी करने की प्रक्रिया चल रही है। बैठक के दौरान सिवाना विधायक हमीरसिंह भायल ने सिवाना क्षेत्र मे जलदाय परियोजनाओं के कार्य मे तेजी लाने की जरूरत जताई। उन्होने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण के कारण कई स्थानों पर पाइप लाइन टूट जाने के कारण जलापूर्ति प्रभावित हो रही है। उन्होने पाइप लाइन दुरस्त करवाने एवं ऐसा नहीं करने पर संबंधित के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की बात कही।
बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन ने जलदाय विभाग मे पद रिक्तता, पेयजल संकट एवं दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का कार्य तीव्र गति नहीं होने की बात कही। जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने बताया कि बाड़मेर जिले मे 4.5 लाख किसानों के खातों मे 340 करोड़ रूपए कृषि आदान अनुदान के आनलाइन हस्तांतरित किए गए है। इससे पारदर्शिता को बढावा मिलने के साथ बेहद कम समय मे किसानों को राशि का भुगतान हो गया। बैठक मे जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एमएल नेहरा ने विभिन्न योजनाओं की अब तक की प्रगति से अवगत कराया।
उप निदेशक लोक सेवाएं अशोक सांगवा ने संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों एवं जिला रसद अधिकारी जीतेन्द्रसिंह नरूका ने रसद विभाग की योजनाओं की प्रगति के बारे मे जानकारी दी। अतिरिक्त जिला कार्यक्रम समन्वयक सुरेश कुमार दाधीच ने मनरेगा के तहत स्वीकृति कार्याें, भुगतान की स्थिति के बारे मे जानकारी दी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. कमलेश चौधरी ने विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए प्रत्येक रविवार को ड्राई डे मनाने का अनुरोध किया। उन्होने कहा कि इस दिन कूलर वगैरह को पानी से खाली करके रखें। इस दौरान जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता हेमंत चौधरी ने बताया कि बालोतरा मे टैंकरों के जरिए जलापूर्ति शुरू की गई है। अन्य स्थानों पर भी जलापूर्ति के लिए टैंकरों से जलापूर्ति के लिए निविदा कर ली गई है। बैठक के दौरान जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल, बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन एवं गडरारोड़ प्रधान तेजाराम मेघवाल ने पिछले दिनों बाड़मेर बंद के दौरान हुई पुलिस कार्रवाई के मामले मे राहत दिलाने का अनुरोध किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक डा. गगनदीप सिंगला, प्रधान कुंभाराम सेंवर, लक्ष्मणराम चौधरी, रशीदा बानो समेत विभिन्न जन प्रतिनिधियों ने आमजन से जुड़ी समस्याओं से अवगत कराया।
आधार कार्ड के अतिरिक्त काउंटर खोलेः राजस्थान उर्दू अकादमी के चैयरमैन असरफ अली ने जिला मुख्यालय पर आधार कार्ड के लिए अतिरिक्त काउंटर खोलने की जरूरत जताई। उन्होने कहा कि कलेक्ट्रेट एवं पंचायत समिति मुख्यालय पर महज दो काउंटर होने से ग्रामीणों एवं सेना, बीएसएफ के लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस पर जिला कलक्टर नकाते ने एसीपी देवेन्द्र माथुर को आधार कार्ड के लिए अतिरिक्त काउंटर खोलने के निर्देश दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here