एसपी साहब हमारे पीछे मत लगो, आपसे हाथ जोड़के विनती है……….पढ़ें ख़बर विस्तार से

215

अशोक दईया 

बाड़मेर टाइम्स ब्यूरो 

बाड़मेर- आज मंगलवार सुबह सोशल मीडिया पर युवती (ऋतु) के दो वीडियो वायरल हुए है जो प्रदेश भर में चर्चा का विषय बने हुए है। जिसमे युवती ने गुलज़ार के साथ रहने मे अपनी सहमति जताई है। वहीं युवती के परिजनों द्वारा कश्मीरी युवक गुलज़ार पर कई संगीन आरोप लगाए गए थे। उन आरोपों को युवती (ऋतु) ने ख़ारिज कर दिया है।
गौरतलब है कि करीब 1 महीने पहले युवती (ऋतु) के बाड़मेर से बड़ौदा के बीच से ही गायब होने पर उसके परिजनों ने कश्मीरी युवक गुलज़ार पर जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने, ब्रेन वास, अपहरण सहित कई संगीन आरोप लगाए थे। जिसके बाद से ही युवती के परिजनों द्वारा लगातार सरकार व जिला प्रशासन से मामले मे हस्तक्षेप कर ऋतु को वापस लाने मे मदद की गुहार लगाई जा रही थी। मामले को लेकर बाड़मेर पुलिस दो बार कश्मीर के कुपवाड़ा भी गई लेकिन, पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। तीसरी बार जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशन मे टीम बनाकर कुपवाड़ा (कश्मीर) के लिए करीब 4-6 दिन पहले भेजी गई है।
फेसबूक के जरिये ऋतु-गुलज़ार ने किया आरोपों को ख़ारिज
बाड़मेर शहर की रहने वाली ऋतु खंडेलवाल के अचानक गायब होने के बाद उसके परिजनों ने कश्मीरी युवक गुलज़ार पर जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने, ब्रेन वास, अपहरण सहित कई संगीन आरोप लगाए थे। उन आरोपों को युवती (ऋतु) और कश्मीरी युवक (गुलजार) ने फेसबूक पर दो विडियो पोस्ट कर ख़ारिज कर दिया है। वहीं बाड़मेर एसपी से सुरक्षा की गुहार लगाई है।
ऋतु (जैनब) ने अपने पति गुलज़ार की फेसबूक आईडी से दो विडियो बनाकर पोस्ट कर बताया कि ‘मेरे माता-पिता ने गुलज़ार पर जो इल्ज़ाम लगाए हैं वो सब झूठे हैं और उन्होने जो भी बयान दिए हैं वो सब झूठे हैं।’ विडियो मे ऐसा कहते हुए ऋतु ने अपना डेट-ऑफ-सर्टिफिकेट बताया और कहा कि मेरे परिजन कहते हैं कि मैं 18+ प्लस भी नहीं हूँ। ऋतु ने अपनी मार्कशीट व जन्म प्रमाण पत्र दिखाकर अपने आपको बालिग भी बताया।
विडियो मे उसने बताया कि गुलज़ार ने कभी मेरे साथ छेदछाड़ नहीं की, किसी बात को लेकर कोई ज़बरदस्ती नहीं की और ना ही गुलज़ार ने मेरा अपहरण किया है। मैं अपनी मर्जी से यहाँ आई हूँ और शादी की है। ऐसा कहते हुए उसने अपना निकाहनामे सहित कई दस्तावेज़ भी बताये। वहीं ऋतु ने अहमदाबाद से दिल्ली व दिल्ली से श्रीनगर फ़्लाइट की टिकटें भी बताई और बाड़मेर से श्रीनगर अकेले जाने की बात कही। वहीं ऋतु ने बताया कि वो पहले भी अपनी मर्जी से निकाह के लिए कश्मीर गई थी और अब भी अपनी मर्जी से यहाँ आई है।
वहीं गुलज़ार कि फेसबूक आईडी से पोस्ट किए विडियो मे ऋतु और कश्मीरी युवक (गुलज़ार) ने कहा कि हमने अपनी रजामंदी से निकाह किया है, हमे अपनी लाइफ जीने दें। वहीं जैनब ने अपने परिवार को परेशान ना करने एवं शांत रहने की बात कही और बाड़मेर जिला पुलिस अधीक्षक से सुरक्षा की गुहार लगाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here