Partition 1947 : भारत-पाक विभाजन की अनसुनी कहानी है ‘पार्टीशन’

148

पार्टीशन स्टार कास्ट : हुमा कुरैशी, ह्यूज बोनविल, ओम पुरी, गिलिन एंडर्सन, मनीष दयाल, माइकल गैम्बोन, डेंजिल स्मिथ
पार्टीशन निर्देशक : गुरिंदर चड्डा

बॉलीवुड एक्ट्रेस हुमा कुरैशी स्टारर फिल्म पार्टीशन भारत-पाक विभाजन पर केंद्रित फिल्म है। 1947 में भारत के विभाजन होने के दौरान लोग किस तरह की परिस्तिथियों से जूझ रहे थे कहानी में दिखाया गया है। फिल्म की कहानी शुरू होती है जब लार्ड माउंटबेटन हिंदुस्तान आते हैं। यहां उनकी और उनकी पत्नी की खातिरदारी के लिए खानसामो की पूरी फौज है इकट्ठा हो रखी है। वही पर जीत यानि की मनीष दयाल और आलिया यानि की हुमा कुरैशी उनके लिये काम करते है। फिल्म की कहानी भारत के आखिरी वायसरॉय लॉर्ड माउंटबैटन के भारत को आजादी दिलाने के लिए आने से होती है। फिल्म में आलिया यानी हुमा कुरैशी और मनीष दयाल यानि जीत के बीच प्यार को दिखाया जाता है। फिल्म में दिखाया गया है कि लॉर्ड माउंटबैटन और उनकी पत्नी लेडी एडविना के मन में भारत के लोगों के प्रति संवेदना है।फिल्म में यह दर्शाया ही नहीं गया लेकिन कहानी इन दोनों की ही वजह सेही आगे सरकती है। इस दौरान दिखाया गया है किस तरह से ब्रिटिश सरकार की दखलंदाजी और जिन्ना की जिद भारत के दो टुकड़े कर देती है। वहीं गांधी जी का इनकी जिद के आगे घुटने टेक देना यह सब कुछ फिल्म में बहुत मार्मिक रूप से दिखाया गया है। फिल्म में सारे कलाकारों का काम सराहनीय है। हुमा कुरैशी का परफॉर्मेंस शानदार है। वहीं फिल्म में एक बार फिर से स्क्रीन पर स्व. ओम पुरी को देखा जा सकेगा। हर बार की तरह उनकी अदाकारी बहुत पारदर्शी रही है। फिल्म इस बात को बताने में सफल रही है कि इस त्रास्दी में भारत-पाक बनने के दौरान दोनों तरफ बराबर बर्बादी हुई थी। भारत पाकिस्तान के बंटवारे जैसे संवेदनशील सब्जेक्ट पर फिल्म बनाना काफी मुश्किल और जोखिम भरा काम है। वजह यह है कि इसमें बारीकी से ध्यान रखने की जरूरत है कि इससे कई लोगों की भावनाएं जुड़ी हैं। कहीं जाने अंजाने में वह आहत न हों। लेकिन गुरिदंर चढ्ढा ने अ पना काम बखूबी निभाया है। इसी वजह से प्यार और दूसरे एंगल से उन्होंने फिल्म की कहानी गढ़ी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here