बीसीसी ने दिया ‘पहरेदार पिया की’ के प्रसारण समय को बदलने का आदेश

153

सोनी टीवी पर प्रसारित होने वाले शो ‘पहरेदार पिया की’ एक विवादित शो बन चुका है। हालिया घोषणा में बीसीसीसी ने सोनी टीवी के शो के प्रसारण समय को 8.30 से हटाकर 10 बजे करने के लिए कहा है। साथ ही इसमें चेतावनी जारी की जानी चाहिए कि यह शो बाल विवाह को बढ़ावा नहीं देता है। पीटीआई ने ट्विट कर कहा- प्रसारण सामग्री शिकायत परिषद (बीसीसीसी) ने सोनी से ‘पहरेदार पिया की’ को 10 बजे के समय पर खिसकाने के लिए कहा है। साथ ही एक चेतावनी चलाई जाए कि यह बाल विवाह को बढ़ावा नहीं देता। अपनी शुरुआत से ही शो अपने अलग कॉन्सेप्ट की वजह से सुर्खियों में छाया हुआ था। सोशल मीडिया पर शो के खिलाफ लिखा जा रहा था। चीजें उस समय बदल गईं जब शो के खिलाफ एक एनजीओ ने ऑनलाइन याचिका दायर कर सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी के पास भेज दी। ईरानी ने इस याचिका को बीसीसीसी के पास कार्यवाही के लिए भेजा। लगता है यह हालिया निर्णय याचिकाकर्ताओं को शांत कर देगा। सोनी से जुड़े एक सूत्र ने बताया- चैनल को अभी केवल सूचना मिली है और एक बार उन्हें नोटिस मिल जाएगा तो तब वो निर्णय लेंगे कि आगे क्या करना है। शो के खिलाफ बनते माहौल पर प्रोडेयूसर शशि और सुमित मित्तल ने सोमवार को मीडिया से बातचीत की। शशि और सुमित ने कहा- बहुत से लोग जो ऑनलाइन याचिका दायर कर रहे हैं उन्हें शो के बारे में कुछ नहीं पता है। वो गर्व से कहते हैं कि हम टीवी नहीं देखते। जब आपने शो देखा ही नहीं तो आप कैसे उसे जज कर सकते हैं? हम कुछ भी आपत्तिजनक नहीं दिखा रहे हैं। हम खुद पारंपरिक लोग हैं और अपनी सीमाएं जानते हैं। शो में लड़के और लड़की के बीच में काफी खूबसूरत रिश्ता दिखाया गया है और यह समाज के खिलाफ नहीं है। पहरेदार पिया की में एक 10 साल के लड़के रतन की 18 साल की लड़की दीया से शादी दिखाई गई है। चीजें उस समय नियंत्रण से बाहर हो गईं जब निर्माताओं ने कपल के बीच सुहागरात, हनीमून जैसी चीजों को दूसरे चीजें दिखाने का निर्णय लिया। सबसे पहले टीवी एक्टर करण वाही ने शो की आलोचना की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here