दागदार हुई तख्तगढ़ नगरपालिका की राजनीति

248
एसीबी ने दो पार्षदों को पालिका सभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाने की एवज में तीन लाख रुपए का लेन-देन करते पकड़ा, पहले ले चुके थे एक लाख रुपए

जोधपुर संभाग के पाली जिले में तख्तगढ़ नगरपालिका की राजनीति गुरुवार को दागदार हो गई। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने गुरुवार को तख्तगढ़ नगर पालिका के दो पार्षदों को पालिका सभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाने की एवज में तीन लाख रुपए का लेन-देन करते हुए पकड़ा। एसीबी की जालोर टीम ने यह कार्रवाई की है। बताया गया है कि इससे पहले ये पार्षद एक लाख रुपए ले चुके है। दोपहर तक एसीबी की कार्रवाई व जांच जारी थी। आज नवरात्रा के दिन एसीबी की इस बड़ी कार्रवाई से पूरे तखतगढ़ नगरपालिका परिसर में खासी हलचल मच गई और अधिकारियों के होश पाख्ता हो गए।

जानकारी के अनुसार तखतगढ़ नगर पालिका अध्यक्ष रंजना खांसी के पति रमेश कुमार घांची ने जालोर एसीबी को शिकायत की थी कि नगर पालिका के भाजपा पार्षद केसाराम व मुकेश कुमार ने पालिका अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नही लाने की एवज में छह लाख रुपए की मांग की थी, जिस पर जालोर एसीबी के डीएसपी अनराज पुरोहित ने कार्रवाई करते हुए पार्षद केसाराम व मुकेश कुमार को तीन लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। फिलहाल एसीबी आगे की कार्रवाई में जुट गई है। दोनों पार्षदों ने पूर्व में एक लाख रुपए ले लिए थे। दोनों ने पचास-पचास हजार रुपए लिए। आज इन लोगों को डेढ़-डेढ़ लाख की राशि लेते रंगे हाथों पकड़ा गया।

सुमेरपुर में भी चल रही गुटबंदी

उल्लेखनीय है कि सुमेरपुर नगरपालिका में भी गुटबंदी चल रही है। गत मंगलवार को सुमेरपुर नगरपालिका अध्यक्ष जोराराम कुमावत के खिलाफ पार्षदों के एक बड़े गुट ने अविश्वास प्रस्ताव जिला मुख्यालय में पेश किया था। मंगलवार सुबह नगर पालिका अध्यक्ष के खिलाफ उपाध्यक्ष रमेश राखेचा के नेतृत्व में 20 पार्षदों के हस्ताक्षर लिए 19 पार्षदों का दल जिला कलक्टर से मिला था। उन्होंने अविश्वास प्रस्ताव पत्र में आरोप लगाया कि ढाई साल के कार्यकाल में विकास कार्य में भेदभाव और मनमर्जी से कार्य करवाए जा रहे है। उन्होंने अध्यक्ष पर व्यक्तिगत हित को साधने वाला भी बताया। सुमेरपुर नगरपालिका में कुल 25 वार्ड है जिसमें 17 सीटें भाजपा के पास है। वहीं 5 निर्दलीय पार्षद और 3 कांग्रेस के पार्षद है। बताया गया है कि इसमें 13 भाजपा के पार्षद, 3 कांग्रेस और 4 निर्दलीय पार्षद विरोध मे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here